The Power Of Intention In Hindi

The Power Of Intention In Hindi

दोस्तों कैसे हो आज हम आप के कुछ खास टॉपिक्स को ले कर आये है जिस का नाम है पावर ऑफ़ इंटेंशन । वैसे आप भी इस को अच्छे से जानते ही होंगे लेकिन हम आप के ज्ञान को थोड़ा सा और बड़ा देते है । जिस से आप को इस लॉ को समझने में आसानी हो । दोस्तों इंटेंशन्स का मतलब इरादा होता है  । जैसे आप को उस काम को करने का मजबूत इरादा है, या आप आज इस किताब को पूरा पढ़ लेंगे ये आप ने थान लिया है ।

The Power Of Intention In Hindi

दोस्तों सफलता हर किसी को चाइए पर कैसे ? क्योंकि हम सफल होने के लिए बहुत कुछ करते है लेकिन जब तक आप का इरादा मजबूत नहीं होगा तब तक आप सफल नहीं हो सकते चाहे आप कुछ भी करते हो । अब अपने इरादे को मजबूत कैसे बनाये ? ये सभी सवाल आप के दिमाग में होंगे पर इस का जवाब केवल आप के ही पास है । दोस्तों अगर आप कुछ भी खेलते हो जैसे – क्रिकेट,चैस,तास, फुटबॉल, आदि तो इन सभी खेलो में कभी न कभी आप की हार होती है और कभी कभी जीत । जब आप की हार होती होगी तब आप दूसरे दिन उस से अच्छा खेलने की कोशिश करते होंगे ऐसा आप करते ही होंगे । तो जो वो एक्स्ट्रा कोशिश आप करते हो वो आप अपने इरादे से करते हो की आज मुझे जितना ही है हर हालत में ।

यहाँ आप अपने इरादे को साफ़ समज़ा देते हो की आज मैं जीत कर ही दिखूंगा चाहे कुछ भी क्यों न हो जाये । अपने  इरादे को पूरा करने के लिए आप के पास इन बातो की जानकारी होना बहुत ही जरूरी है जैसे –

क्रिएटिव बने

काइंड बने यानी दयालु बने ।

लव करे यानी प्यार करे ।

जितने की आदत ।

किसी भी काम को पूरा करने का हौसला ।

दोस्तों जब में इंटेंशन की विडियो को देख रहा था तब मुझे एक खास बात का पता चला था और वो ये था की प्रॉब्लम यानि की समस्या तो हमारे ही अंदर होती है और उस का समाधान भी हमारे ही अंदर होता है लेकिन हम कोई भी समाधान किसी और से चाहते है । हम ये चाहते है की कोई इस को ठीक कर दे कुछ भी कर के । अब आप ये सोच रहे होंगे की इस का इंटेंशन से क्या मतलब है तो दोस्तों इस का इंटेंशन से ही मतलब होता है । क्योंकि जब तक आप को अपनी समस्या दिखाई ही नहीं देगी तब तक आप उस समस्या को दूर करने का इरादा ही नहीं बनाओगे ।

एक उदाहरण लेते है मान लेते है की आप एक कमरे में हो और आप का एटीएम कार्ड भी आप के पास ही है, लेकिन अचानक ही लाइट चली जाती है और आप का एटीएम आपके हाथो से निचे गिर जाता है  । तो आप उस एटीएम की तलाश करते है की एटीएम कहा गया और आप को अचानक से घर के बाहर रोशिनी दिखाई देती है और आप वहाँ जाकर अपने एटीएम की तलाश करते है की तभी एक आप का दोस्त वहाँ आ जाता है और आप से पूछता है की आप क्या कर रहे हो और आप उस से ये कहते हो की में अपना एटीएम की तलाश कर रहा हु, और आप उस से भी ये कहते है की वो भी एटीएम की तलाश करे । वो भी तलाश करता है बहुत देर बाद वो आप से पूछता है की आखिर एटीएम गिरा कहा था और आप उस से कहते हो की घर में । अब उस दोस्त का क्या उत्तर होगा । तो अब वो आप से ये ही कहेगा न की तो बाहर क्यों ढूंढ रहे हो घर में तलाश करो लेकिन आप का उत्तर ये होता है की मुझे लगा की बाहर एटीएम की तलाश करने से क्या पता कोई मेरी मदद कर दे ।

दोस्तों ये कोई मज़ाक नहीं है लेकिन ऐसा ही होता है आप उस परिस्थिति में थोड़ा रुक सकते हो जब तक लाइट नहीं आ जाती । लेकिन हम सब के माइंड में एक ही बात होती है की कोई मेरी मदद कर दे बस, आप का इरादा एटीएम कार्ड की तलाश करने का था लेकिन थोड़े ही समय में बदल भी गया था । तो दोस्तों इस उदाहरण में मैं आप को केवल इतना ही बताना चाहता हु की अपने इरादे को मजबूत बनाये, घबराए नहीं समय ले ताकि किसी भी परिस्थिति को अच्छे से समाज सके ।

फ्रेंड्स आप को ये आर्टिकल कैसे लगा हमे कमेंट करके जरूर बताना, अगर आप को ये आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इस आर्टिकल को अपने फ्रेंड्स के साथ सोशल मीडिया में शेयर जरूर करना ! अगर आप ने हमारी वेबसाइट को अभी तक सब्सक्राइब नहीं किया है तो अभी सब्सक्राइब करे !

Leave a Reply